गुरुवार, 18 फ़रवरी 2010

कविता कवि और श्रोता (कवि अमृत 'वाणी')




रचना कार कवी अमृत'वाणी (अमृत लाल चंगेरिया )
रिकॉर्ड :- 28/2/2009

1 टिप्पणी:

RaniVishal ने कहा…

तालियो क मह्त्व एक दम सही बखाना आपने, आपका देसी लहज़ा भा गया..!
http://kavyamanjusha.blogspot.com/